September 27, 2020

कँगना का ऑफिस तोड़ने पर लगी रोक, हाईकोर्ट ने बीएमसी से माँगा जवाब

मुंबई : बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत महाराष्ट्र सरकार के बीच खींचतान जारी है. आज कँगना मुंबई पहुंचने वाली थी लेक़िन उससे पहले ही बीएमसी ने मुंबई स्थित ‘मणिकर्णिका फिल्म्ज’ ऑफिस को कथित तौर पर अवैध निर्माण को तोड़ दिया है. 

BMC के इस कार्रवाई के खिलाफ  कंगना ने बॉम्बे हाईकोर्ट में अपील की. बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी है.

हालांकि, कोर्ट ने जब रोक लगाने का आदेश जारी किया, तब तक बीएमसी की टीम दफ्तर को तोड़ने के बाद लौट चुकी थी.

BMC के इस एक्शन पर कंगना ने अपनी प्रतिक्रिया भी दे दी है. एक्ट्रेस ने BMC को बाबर सेना बताया और कहा कि ये मंदिर (कंगना का ऑफिस) दोबारा बनेगा.

अब इस मामले में गुरुवार दोपहर 3 बजे सुनवाई होगी. हाईकोर्ट ने कंगना रनौत के ऑफिस में अवैध निर्माण को गिराने में इतनी जल्दबाजी करने के लिए बीएमसी से जवाब मांगा है. कल बीएमसी को इसका जवाब देना है.

बता दें कि कोरोना वायरस महामारी देखते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने 26 मार्च 2020 को एक आदेश जारी करते हुए कहा था कि राज्य सरकार बीएमसी और सभी संबंधित विभाग किसी के खिलाफ कोई विरोधात्मक कार्रवाई जल्दबाज़ी में ना करें.

हाईकोर्ट ने 30 सितंबर तक लगायी थी रोक

26 मार्च को जारी हुए इस आदेश पर हाईकोर्ट ने 31 अगस्त को सुनवाई की थी और इसे 30 सितंबर तक के लिए बढ़ा भी दिया है.

हाईकोर्ट ने बीएमसी से पूछा – जल्दबादी क्यों?

ऐसे में सवाल यह है कि आखिर बीएमसी क्या हाईकोर्ट के आदेश का भी सम्मान नहीं करते या पालन करना उचित नहीं समझती.

ऐसे भी क्या जल्दबाजी थी कि बीएमसी ने नोटिस देने के 24 घंटे के भीतर ही कंगना के ऑफिस में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू कर दी. वो भी तब जब मामले की सुनवाई हाईकोर्ट में आज ही होनी थी.

कँगना ने कहा – नहीं हुआ कोई अवैध निर्माण

कंगना रनौत के ऑफिस तोड़ने की तस्वीर सोशल मीडिया पर भी आईं. बीएमसी ने कहा कि कंगना रनौत ने अपने ऑफिस में अवैध निर्माण करवाया है,

लेकिन कंगना ने कुछ देर पहले ही ट्वीट कर कहा कि उनके ऑफिस में कोई अवैध निर्माण नहीं हुआ है.

गौरतलब है कि बीते दिनों मुंबई की तुलना पीओके से करने के चलते सत्तारूढ़ पार्टी शिवसेना उनके खिलाफ प्रदर्शन कर रही है.

शिवसेना की महिला कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के सामने आए एक वीडियो में कंगना की तस्वीर को चप्पल मारते भी देखा गया है. साथ ही शिवसेना के प्रमुख नेता संजय राउत ने भी कंगना को मुंबई ना आने की सलाह थी.