बड़ी खबर:मंडी परिषद ने आम पर लगने वाला 2.5% कर माफ किया

लखनऊ : मंडी परिषद ने आम खरीददारों से प्रत्येक 1 लाख रुपये तक की बिक्री पर वसूल करने वाले 2.5% कर को माफ कर दिया है ।

आपको बताते चलें कि मंडी परिषद आम खरीददारों से 1 लाख रुपये की प्रत्येक खरीद के पर 2.5% कर वसूल करता था ।

मंडी परिषद ने इस साल आम में हो चुके भारी नुकसान के मद्देनजर यह फैसला लिया है । गौरतलब है कि इस साल आम के फसल की शुरुआत में खराब मौसम तथा आंधियों के कारण भारी नुक़सान हुआ है । इसके साथ कोरोना के कारण आम के कारोबार में भारी घाटा होने की संभावना है ।

अखिल भारतीय आम उत्पादक संघ के अध्यक्ष इंसराम अली ने बताया की मंडी परिषद का यह फैसला सराहनीय है । मंडी परिषद द्वारा कर माफी निश्चित रूप से आम के किसानों के लिए बड़ी राहत है ।

राज्य सरकार की यह कर माफी आमों की अधिक बिक्री को प्रोत्साहित करेगा। इसके साथ ही आम का परिवहन आसान होगा क्योंकि मंडी परिषद द्वारा कोई जाँच नहीं हो सकती है । इससे आम को दूसरे राज्यों में ले जाना भी आसान हो जाएगा