CAA-NRC: हिंसा में कांग्रेस नेता शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी का विरोध करने पर लाठीचार्ज

बीते साल CAA और NRC को लेकर हुई हिंसा से जुडी एक बड़ी खबर सामने आयी है. CAA के खिलाफ प्रदर्शन आगजनी व तोड़फोड़ में हजरतगंज पुलिस ने कांग्रेसी नेता शाहनवाज आलम को गिरफ्तार कर लिया।

सोमवार देर रात इसकी सूचना मिलने पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू, कांग्रेस विधान मंडल की नेता आराधना मिश्रा मोना, शहर कांग्रेस अध्यक्ष मुकेश सिंह चौहान समेत तमाम पदाधिकारी व कार्यकर्ता हजरतगंज कोतवाली पहुंचे और विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। इसे लेकर पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज भी किया।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि शाहनवाज के साथ दो और लोग भी थे, जिन्हें पुलिस पकड़कर ले गई। हालांकि, संयुक्त पुलिस आयुक्त नीलाब्जा चौधरी ने सिर्फ शाहनवाज की गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

अधिकारी पूरा मामला गोपनीय रखना चाहते थे, लेकिन अपार्टमेंट में लगे CCTV कैमरे में शाहनवाज को लेकर जाते पुलिसकर्मियों की फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी।

बता दें कि कांग्रेस अल्पसंख्यक कमेटी के चेयरमैन शाहनवाज मूल रूप से बलिया के हैं और यहां गोल्फ क्लब तिराहे पर स्थित लिंक अपार्टमेंट में रहते हैं। पुलिस ने रात आठ बजे उन्हें अपार्टमेंट के पास से ही गिरफ्तार किया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का कहना है कि CAA – NRC के विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा, तोड़फोड़ व आगजनी से शाहनवाज का कोई लेना-देना नहीं है।

प्रदेश सरकार ने दमनकारी नीति के तहत उनकी गिरफ्तारी की है, जिसका सड़क पर उतरकर विरोध किया जाएगा।

गौरतलब है कि 19 दिसंबर 2019 को CAA – NRC के विरोध में राजनीतिक व सामाजिक संगठन के लोगों ने राजधानी में जमकर प्रदर्शन व हंगामा किया था।

इस दौरान हसनगंज के खदरा और ठाकुरगंज में पुलिस की दो चौकियां फूंक दी थी। परिवर्तन चौक पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच जमकर गोलीबारी, पथराव और मारपीट हुई थी।

प्रदर्शनकारियों के खिलाफ हजरतगंज, हसनगंज, ठाकुरगंज, कैसरबाग समेत अन्य थानों में मुकदमे दर्ज किए गए थे।

पुलिस ने मौके से ही कई प्रतिष्ठित लोगों को गिरफ्तार किया था। कुछ लोगों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई भी की गई थी।