April 23, 2021

फूल नहीं पौधा भेंट करके मनाया वेलेनटाइन डे

वेलेनटाइन डे पर फूल देना एक परंपरा बन गया है। लेकिन इस परंपरा को तोड़ते हुए रॉबिन हुड आर्मी के सदस्यों ने फूल की जगह लोगों को पौधा भेंट किया।

रॉबिन हुड आर्मी ग्रुप की सदस्य सोनम राठौर बताती है कि वर्तमान समय में जिस तरह प्रकृति का ह्रास हो रहा है। अभी हाल ही में उत्तराखंड में आई त्रासदी इसकी गवाह है। ऐसे में पेड़ ही है जो प्रकृति में संतुलन बनाए रख सकते है।

इसी सोच के साथ हमने सड़कों के किनारे जो सब्जी फल का ठेला लगाए होते है उनको एक एक पौधा भेट किया। जिससे कि वह सब्जी और फल को पानी देने के साथ पौधे को भी पानी देते रहे।

रॉबिन हुड आर्मी एक वोलंटियर ग्रुप है, जिसके सभी सदस्य स्वेच्छा से इसमें जुड़कर कार्य करते हैं।

मुख्यतः इस आर्मी की शुरुआत खाने की बर्बादी को रोकने के लिए हुई थी। शादी पार्टी में बर्बाद होने वाले खाने को यह ग्रुप जरूरत मंद लोगों तक पहुंचाने का कार्य करता है।

इसके साथ अब गरीब मलिन बस्तियों में रहने वाले बच्चों को पढ़ाने का कार्य भी इस ग्रुप के द्वारा किया जा रहा है। यह ग्रुप भारत के साथ पड़ोसी कई देशों में चल रहा है।

वेलेनटाइन डे को प्यार की एक नई परिभाषा देने के लिए इस साल इस ग्रुप ने पूरे विश्व में अलग अलग तरह से यह दिवस मनाया।