October 16, 2021

सीएम बनने के बाद चन्नी ने किए बड़े ऐलान: किसानों के पानी और बिजली बिल किए माफ

चंडीगढ़ : चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब मुख्यमंत्री की कमान संभालने के बाद अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें उन्होंने कई बड़े एलान किए हैं.

चन्नी ने बड़ा फैसला लेते हुए किसानों के पानी और बिजली के बिल माफ करने का एलान किया. रेत माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया.

साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का निवेदन किया है. सीएम चन्नी ने कांग्रेस आलाकमान का शुक्रिया अदा किया और कैप्टन अमरिंदर सिंह की तारीफ भी की है.

शपथ ग्रहण करने के बाद सीएम चन्नी ने सबसे पहले कांग्रेस आलाकमान का शुक्रिया अदा किया. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस ने एक आम आदमी को पंजाब का सीएम बनाया.

जहां हम पैदा हुए थे, वहां छत नहीं थी. कांग्रेस पार्टी ने एक गरीब को मौका दिया. मेरी इतनी हैसियत नहीं थी.’

किसानों पर आई आंच, तो मैं अपना गला काट कर दे दूंगा”- सीएम चन्नी

पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने किसानों को लेकर बड़े एलान किए. उन्होंने कहा, ‘ये किसानों की सरकार है. किसानों पर कोई आंच आएगी, तो मैं अपना गला काट कर दे दूंगा.

अगर किसान डूबा, तो देश डूब जाएगा. अर्थव्यवस्था डूब जाएगी. अगर किसानी खुशहाल होगी तो ही पंजाब खुशहाल होगा. किसानों के लिए बिजली और पानी मुफ्त होना चाहिए.

हमारी सरकार में किसानों के बड़े बिजली के बिल माफ किए जाएंगे. अगर किसी की बिजली कटी है तो हम उसके घर बिजली बहाल करेंगे.

ये पंजाब के आम लोगों की सरकार है. हम भरोसा दिलाते हैं कि किसी के साथ कुछ गलत नहीं होगा. सभी के लिए कानून एक जैसा होगा.’

उन्होंने किसान आंदोलन का उल्लेख करते हुए आगे कहा कि केंद्र सरकार को केंद्रीय कृषि कानूनों को निरस्त करना चाहिए.

मैं सभी किसानों और कर्मचारियों से अनुरोध करता हूं कि आप अपना आंदोलन खत्म कर दें. मैं आपके साथ हूं। मुझे थोड़ा समय चाहिए, आप सभी की मांगे पूरी होगी. मुझपर भरोसा रखिए.

हर एक शिकायत का हल होगा. यह आम आदमी की सरकार है. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब में बहुत अच्छा काम किया.’

चन्नी ने कहा कि रेत माफिया के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और सभी मुद्दों का समाधान होगा. रेत माफिया और अवैध खनन पर अंकुश लगाने को लेकर आज ही बड़ा कदम उठाएंगे.

आने वाले दिनों में सभी मसलों का हल होगा. उन्होंने कहा, ‘पंजाब की एकता, अखंडता और भाईचारा को कायम रखना है. हम सबको मिलकर रहना है. पंजाब को आगे बढ़ाना है.’