March 15, 2020

कोरोना से बचाव को समर्पित रहा मुख्यमंत्री आरोग्य मेला

मुख्य बातें

  • आरोग्य मेले में सिखाया गया हाथ धोने का फॉर्मूला
  • सुमन-के तरीक़े से रखे हाथों की सफाई
  • प्रमुख सचिव ने किया आरोग्य मेले का निरीक्षण

झाँसी : जनपद के 47 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य मेला मनाया गया। इस बार के आरोग्य मेले में कोरोना वायरस से बचाव के उपायों के प्रति लोगों को जागरूक किया गया।

लखनऊ से आए प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बामौर ब्लॉक के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एरच व मोठ ब्लॉक के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पूंछ के मेले का निरीक्षण किया।

प्रमुख सचिव ने मेले में व्यक्तिगत स्वच्छता और पर्यावरण स्वच्छता के बारे में बताते हुये लोगों को बीमारियों के बचाव के उपायों की जानकारी दी।

उन्होने कहा कि सभी लोगों को हाथ धोने के बारें में ज्यादा से ज्यादा जागरूक किया जाए, वही प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के परिसर में हर्बल गार्डन और आईसीडीएस विभाग के सहयोग से पोषण वाटिका का निर्माण किया जाए।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ जी के निगम ने बताया कि मेले में सर्दी-जुकाम एवं बुखार के मरीजों हेतु अलग ओपीडी की व्यवस्था की गयी थी।

आरोग्य मेले में आने वाले व्यक्तियों को कोरोना वायरस संक्रमण के विषय पर जागरुक किया गया। इस बार मेले में हाथों की स्वच्छता पर विशेष ज़ोर दिया गया। मेले में प्रति 30 मिनट पर आशाओं, एएनएम व अन्य स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा हाथ धोने के सही तरीके का प्रदर्शन (सुमन के) लगातार किया गया.

जिससे वहां उपस्थित जनमानस हाथों की स्वच्छता के महत्व के प्रति जागरूक हो सके। वही कोरोना के प्रति लोगों में डर के माहौल को वैज्ञानिक व प्रमाणिक जानकारियां प्रदान कर दूर किया गया एवं बचाव के तरीकों पर जागरुक किया गया।

स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी डॉ॰ विजयश्री ने बताया कि आज के मेले में कुल 6131 मरीजों के स्वास्थ्य की जांच की गयी, जिसमें से 133 मरीजों को रिफर किया गया।

108 एनीमिया से ग्रसित पाये गये, 17 टीबी के संदिग्ध रोगी पाये गये, 52 अतिकुपोषित बच्चे मिले। 320 गर्भवती महिलाओं की जांच की गयी, आयुष्मान भारत के 340 लाभान्वितों को गोल्डन कार्ड वितरित किये गये।

क्या है सुमन के फॉर्मूला

कोरोना वायरस से बचाव के लिए सबसे महत्वपूर्ण सुमन के फॉर्मूला के अनुसार हाथों को बार बार धोना है।
एस- सीधा
• यू- उल्टा
• म- मुट्ठी
• ए- अंगूठा
• एन- नाखून
• के- कलाई

कोरोना वायरस से बचाव के चार प्रमुख संदेश
• हाथों को साबुन और पानी से धोते रहे
• खाँसते और छीकते समय अपने नाक और मुंह को टिशु या रुमाल से ढके
• चेहरे, आँख, नाक, मुंह को बार बार न छुए
• ज्यादा भीड़ भाड़ वाली जगह न जाए, खांसी जुखाम वाले मरीजों से तीन फुट की दूरी बनाए रखे

इस अवसर पर अपर निदेशक डॉ एस बी मिश्रा, संयुक्त निदेशक डॉ॰ रेखा रानी, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ॰ एन के जैन, डॉ॰ राजकिशोर, चिकित्सा अधीक्षक डॉ॰ सुमित मिसुरिया, डॉ॰ के के राजपूत आदि लोग मौजूद रहे।