लखनऊ के केजीएमयू ट्रामा सेंटर में लगी भीषण आग

लखनऊ : लखनऊ के केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में बुद्धवार रात करीब 10:30 बजे एक भयानक हादसा हो गया.

दरअसल ट्रामा सेंटर की दूसरी मंदिर पर लिफ्ट के पास रखे कबाड़ में आग लग गई। जिसकी वजह से मेडिसिन और आर्थो विभाग की गैलरी में स्पार्किंग के साथ तेज धमाका हुआ।

इसी दौरान लिफ्ट में भी आग लग गई। तेज धमाके से लोग डर गए। पूरे वार्ड में धुआं भर गया। इससे मरीजों का दम घुटने लगा और चीख-पुकार मच गई।

आनन-फानन में रेजिडेंट डॉक्टर व अन्य कर्मियों ने बेड सहित मरीजों को नीचे उतारकर आधे घंटे के अंदर सुरक्षित गांधी वार्ड पहुंचाया.

इसके बाद दमकल की गाड़ियां और पुलिस पहुंची। ट्रॉमा सेंटर के चिकित्सा अधीक्षक प्रो. सुरेश कुमार ने बताया कि किसी तरह की जनहानि नहीं हुई है। मेडिसिन विभाग के सभी मरीजों को निकालकर आग बुझा दी गई है।

आग बुझाने के लिए तोड़ने पड़े खिड़कियों के शीशे

आग बुझाने पहुंची दमकल की आधा दर्जन गाड़ियों को ट्रॉमा सेंटर की दूसरी मंजिल पर धुआं भर जाने से दिक्कतों का सामना करना पड़ा। खिड़कियों के शीशे तोड़ने पर धुआं बाहर निकला तो राहत कार्य शुरू किया गया।

डेढ़ घंटे में आग पर काबू पाया गया। घटना की सूचना पर चौक के अलावा, वजीरगंज, ठाकुरगंज व बाजारखाला की पुलिस बुला ली गई। मुख्य अग्निशमन अधिकारी विजय कुमार सिंह के मुताबिक आग लिफ्ट के पास रखे कबाड़ में लगी थी।

इससे दूसरी मंजिल पर धुआं भर गया था। एसीपी चौक दुर्गा प्रसाद तिवारी के मुताबिक फायर स्टेशन की गाड़ियों की मदद से आग को बुझा दिया गया।

बता दें कि तीन साल में ट्रॉमा सेंटर में आग लगने की यह दूसरी घटना है। दोनों बार आग दूसरी मंजिल पर ही लगी।