September 27, 2020

कोविड को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय का नया प्रोटोकॉल,जानें ये 10 जरुरी बातें

नई दिल्ली : कोरोना वायरस के मामले भारत में बड़ी तेजी से बढ़ रहे हैं. कोविड-19 के इन भयावह हालातों को नियंत्रित करने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने ‘पोस्ट कोविड-19 मैनेजमेंट प्रोटोकॉल’ जारी किया है.

नए प्रोटोकॉल में मरीज की रिकवरी और कॉम्यूनिटी लेवल पर वायरस की रफ्तार को कम करने के तरीके बताए गए हैं. इसमें इम्यूनिटी बढ़ाने के भी कई खास नुस्खों के बारे में बताया गया है.

होम आइसोलेशन में रहकर ठीक होने वाले मरीजों के लिए प्रोटोकॉल में कई अहम बातें शामिल हैं. प्रोटोकॉल के मुताबिक, ऐसे मरीज मास्क, हाथों की सफाई और रेस्पिरेटरी हाइजीन का खास ख्याल रखनें.

साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का गंभीरता से पालन करें. साथ ही पर्याप्त मात्रा में गर्म पानी पीएं. इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय की दवाओं का इस्तेमाल किया जा सकता है.

यदि स्वास्थ्य अनुमति देता है तो नियमित रूप से घरेलू काम किया जाना चाहिए. ऑफिस का काम धीरे-धीरे शुरू करें. इस दौरान लोगों को हल्का-फुल्का व्यायाम (एक्सरसाइज) करने की भी सलाह दी गई है.

इसके अलावा सेहत का ख्याल रखते हुए रोजाना योगासन, प्राणायाम और मेडिटेशन करें. फिजिशियन इसमें श्वसन व्यायाम की भी सलाह देते हैं. शारीरिक क्षमता के अनुसार रोजाना मॉर्निंग वॉक और इवनिंग वॉक पर जाएं.

अपने पौष्टिक आहार को बैलेंस करें. ताजा पका हुआ और नरम खाना आसानी से पचाया जा सकता है. पर्याप्त नींद और आराम का भी विशेष ध्यान रखें.

एल्कोहल या धूम्रपान का सेवन ना करें. घर में रहते हुए अपनी हेल्थ को अच्छे से मॉनिटर करें. खासतौर से शरीर का तापमान, ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर (अगर डायबिटीज हो तो) और पल्स ऑक्सीमेट्री की जानकारी रखें.

यदि सूखी खांसी और गले में खराश है तो नमक के पानी से गरारे करें और स्टीम लें. स्टीम लेने के लिए पानी में जड़ी बूटियों का भी इस्तेमाल करें.

खांसी में डॉक्यर या आयुष मंत्रालय के क्वालीफाइड प्रैक्टिशनर की सलाह पर ही दवा लें. तेज बुखार, सांस में तकलीफ, छाती में दर्द और कमजोरी जैसे कोरोना के शुरुआती लक्षणों पर ध्यान दें.

नये प्रोटोकॉल में बताये गये हैं इम्युनिटी बढ़ाने के नुस्खे

नए प्रोटोकॉल में इम्यूनिटी बढ़ाने के नुस्के भी बताए गए हैं. इसके लिए आयुष मंत्रालय की दवाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं. एक कप में रोजोना आयुष क्वाथ मिलाकर पीएं. दिन में दो बार 1-1 ग्राम संशमनी वटी ले सकते हैं.

1-3 ग्राम गिलोय पाउडर निवाय पानी में मिलाकर 15 दिन पीएं. दिन में 1 ग्राम अश्वगंधा या 1-3 ग्राम अश्वगंधा पाउडर दिन में दो बार 15 दिन तक ले सकते हैं.

सूखी खांसी होने पर 1-3 ग्राम मुलेठी पाउडर निवाय पानी के साथ दिन में दो बार लें. सुबह-शाम दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर पीएं.

सांस में आराम के लिए पानी में हल्दी और नमक मिलाएं. रोजाना सुबह एक चम्मच (5 मिलीग्राम) च्यवनप्राश का सेवन करें.