April 17, 2021

लखनऊ: ई-चालान के नाम पर अवैध वसूली में दरोगा समेत 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड

लखनऊ : वाहन चालकों से वसूली और नियमविरुद्ध तरीके से चालान करने के आरोप में ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर और चार सिपाहियों को निलम्बित कर दिया गया है।

डीसीपी ट्रैफिक ने इन पुलिसकर्मियों के खिलाफ वाहन चालकों को परेशान कर वसूली करने, जबरदस्ती चालान और गाड़ी छोड़ने को लेकर रिश्वत लेने की शिकायतों पर जांच में ये आरोप सही मिलने पर सभी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के भी आदेश दिये हैं।

सिपाही-होमगार्ड भी कर रहे थे चालान

डीसीपी ख्याति गर्ग ने बताया कि ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले वाहन चालकों का फोटों खींच कर चालान करने का अधिकार सिपाही व होमगार्ड को नहीं दिया गया है। उन्हें शिकायत मिली थी कि कई जगह सिपाही और होमगार्ड चालान कर रहे हैं।

चिनहट में रिश्वत लेकर ट्रक ड्राइवर को छोड़ा

चार फरवरी को चिनहट तिराहे पर एक कार और ट्रक के बीच टक्कर हो गई थी। इसमें दोनों पक्ष समझौता करने को तैयार हो गये थे। ट्रक ड्राइवर ने नुकसान की कीमत देने को कह दिया था।

इसी बीच वहां चिनहट तिराहे पर तैनात सब इंस्पेक्टर सुनील कुमार, सिपाही गोरखनाथ, सतीश कुमार और अरविन्द सिंह पहुंच गये।

इन लोगों ने कार मालिक से तकनीकी मुआयना होने की बात कही। फिर उनसे गाड़ी के मूल कागजात लाने को कहा।

कार मालिक जब कागज लेकर पहुंचा तो ड्राइवर नहीं मिला। इस बारे में पूछने पर टालमटोल करने लगे। इसके बाद कार मालिक ने फोन कर डीसीपी ख्याति को पूरी जानकारी दी।

जांच में सब इंस्पेक्टर सुनील कुमार, सिपाही गोरखनाथ, सतीश कुमार और अरविन्द सिंह की भूमिका संदिग्ध मिली। इसके आधार पर ही चारों को निलम्बित किया गया है।