पाकिस्तान से मिली 26/11 जैसे हमले को दोहराने की धमकी, निशाने पर ताज़ होटल

मुंबई : देश की आर्थिक राजधानी मुंबई को एक बार फिर दहशतगर्द अपना निशाना बनाने की फ़िराक में है. उन्होंने मुंबई को बम धमाकों से दहलाने की धमकी दी है.

मुबई स्थित ताज होटल के साथ ही होटल कोलाबा और ताज लैंड्स एंड को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला फोन किया गया है. बताया जा रहा है कि ये कॉल बीती रात 12.30 बजे पाकिस्तान से किया गया है.

फोन करने वाले शख्स ने कहा कि कराची स्टॉक एक्सचेंज में हुआ आतंकी हमला पूरी दुनिया ने देखा है अब भारत के ताज होटल में 26/11 जैसा हमला एक बार फिर होगा.

ताज होटल को पाकिस्तान से आए धमकी भरे फोन की जानकारी मुंबई पुलिस को दे दी गई है. पाकिस्तान से आए इस फोन के बाद से मुंबई में सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है.

रात में आए इस फोन के बाद से मुंबई पुलिस और होटल स्टाफ मिलकर सुरक्षा का मुआयना कर रहे हैं. यहां पर आने वाले हर एक गेस्ट की एक बार फिर जानकारी इकट्ठा की जा रही है.

होटल स्टाफ से गेस्ट की हर गतिविधि पर नजर रखने को कहा गया है. इसके साथ ही दक्षिण मुंबई में नाकाबंदी कर वाहनों की तलाशी बढ़ा दी गई है.

26/11 MUMBAI ATTACK

26 नवंबर, 2008 को मुंबई में आतंकी हमला हुआ था. करीब 60 घंटे चले इस हमले में 166 से अधिक लोग मारे गए थे और 300 से अधिक लोग जख्मी हो गए थे.

मरने वालों में 28 विदेशी नागरिक भी शामिल थे. इस हमले ने पूरे देश को झकझोर दिया था और भारत और पाकिस्तान युद्ध की कगार पर आ गए थे.

मुंबई आतंकी हमले में एकमात्र आतंकी अजमल कसाब को जिंदा पकड़ा गया था. उससे भारतीय जांच एजेंसियों ने घटना के बारे में पूरी पूछताछ की जिससे इस घटना में पाकिस्तान के हाथ होने का पता चला था.

कसाब को 21 सितंबर 2012 की सुबह पुणे की यरवदा जेल में फांसी के फंदे पर लटका दिया गया. कसाब की मौत से पहले भारतीय जांच एजेंसियां पाकिस्तान में रची गयी मुंबई हमले की साजिश से जुड़ी एक-एक जानकारी उससे निचोड़ ली थी.

26 नवम्बर, 2008 को भारी हथियारों से लैस 10 पाकिस्तानी आतंकवादियों ने कराची से समुद्री रास्ते से होकर नाव से मुम्बई में प्रवेश किया था.

इन आतंकवादियों ने छत्रपति शिवाजी रेलवे टर्मिनस, ताजमहल होटल, ट्राइडेंट होटल और एक यहूदी केंद्र पर हमला किया था.