January 25, 2021

राष्ट्रीय युवा संसद महोत्‍सव में बोले पीएम: स्वामी विवेकानंद के विचार कर रहे व्यक्तित्व निर्माण

नई दिल्ली : पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्रीय युवा दिवस पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से दूसरे राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव के समापन समारोह को संबोधित किया. इस दौरान महोत्सव के तीन राष्ट्रीय विजेताओं ने भी अपने विचार रखे. 

राष्ट्रीय युवा संसद महोत्‍सव (एनवाईपीएफ) का उद्देश्य 18 से 25 साल के बीच के युवाओं के विचारों को सुनना है. जो मतदान करने का अधिकार रखते हैं और आने वाले सालों में सार्वजनिक सेवाओं सहित विभिन्न सेवाओं में शामिल होंगे.

प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे पहले स्वामी विवेकानंद की 150वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि जताई। उन्होंने कहा कि ”आप सभी को राष्ट्रीय युवा दिवस की बहुत बहुत शुभकामनाएं. स्वामी विवेकानंद की जन्म जयंती का ये दिन हम सभी को नई प्रेरणा देता है. 

संसद में हो रहा युवा संसद महोत्सव

आज का ये दिन विशेष इसलिए भी हो गया है कि इस बार युवा संसद देश की संसद के सेंट्रल हॉल में हो रही है. ये सेंट्रल हॉल हमारे संविधान के निर्माण का गवाह है.”

स्वामी विवेकानंद के विचारों से हो रहा व्यक्ति निर्माण

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे हमारे स्वतंत्रता सेनानी स्वामी विवेकानंद से बहुत प्रभावित थे। जब इन सेनानियों को गिरफ्तार किया गया, तो तलाशी के दौरान उनके पास से स्वामी जी का साहित्य मिला। तब अंग्रेजों ने स्वामी विवेकानंद के साहित्य का मूल्यांकन किया, तब पता चला कि यह साहित्य ही आजादी के मतवालों को आजादी के लिए लड़ने की प्रेरणा देता था।

उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने एक और अनमोल उपहार दिया है। ये उपहार है, व्यक्तियों के निर्माण का, संस्थाओं के निर्माण का। इसकी चर्चा बहुत कम ही हो पाती है।

मोदी ने कहा कि लोग स्वामी जी के प्रभाव में आते हैं, संस्थानों का निर्माण करते हैं, फिर उन संस्थानों से ऐसे लोग निकलते हैं, जो स्वामी जी के दिखाए मार्ग पर चलते हुए नए लोगों को जोड़ते चलते हैं।

उन्होंने कहा, ”ये स्वामी जी ही थे, जिन्होंने उस दौर में कहा था कि निडर, बेबाक, साफ दिल वाले, साहसी और आकांक्षी युवा ही वो नींव है जिस पर राष्ट्र के भविष्य का निर्माण होता है. वो युवाओं पर, युवा शक्ति पर इतना विश्वास करते थे.”

इस अवसर पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और केन्‍द्रीय युवा मामले एवं खेल मंत्री किरन रिजिजु भी उपस्थित रहे.