काबुल नदी के जल से होगा रामलला का जलाभिषेक ,सीएम योगी ने बताई पूरी बात

अयोध्या : उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ आज अयोध्या दौरे पर हैं। वे अयोध्या में रामलला को चढ़ाने के लिए अफगानिस्तान से एक लड़की द्वारा भेजा गया काबुल नदी का जल लेकर जाएंगे.

सीएम वहां भगवान रामलला और हनुमानगढ़ी के दर्शन करेंगे. सीएम योगी काबुल नदी के जल में गंगा जल में मिलाकर रामलला का जलाभिषेक करेंगे.

इसके बाद 3 नवंबर को होने वाले दीपोत्सव की तैयारियों का जायजा भी लेंगे. दरअसल, उन्होंने बताया कि अफगानिस्तान से एक लड़की ने काबुल नदी का जल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजा था।

अयोध्या में दीपोत्सव पूरे धूमधाम से मनाया जाना है, जिसकी तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज अयोध्या दौरे पर जाने वाले हैं.

अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम मनाने को लेकर सरकार के स्तर पर तमाम तैयारियां भी की गई हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश सरकार ने गोबर से बने दीयों से राम की नगरी को जगमगाने की तैयारी की है.

इस बार प्रदेश सरकार ने दीपावली पर अयोध्या में पांच लाख दीये जलाने का संकल्प लिया है.

भाजपा की ओर से भी घर-घर दीपक जलाए जाने को लेकर अभियान शुरू किया गया है. वहीं, भाजपा मेरा परिवार अभियान की शुरुआत की गई और दीपावली के अवसर पर हर घर को इस अभियान से जुड़ने के लिए दीपक जलाने का लक्ष्य भाजपा कार्यकर्ताओं को दिया गया है.

राम मंदिर निर्माण पर कही ये बात

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सदियों की बेड़ियों व दासता के कलंकों को हटाते हुए भव्य श्रीराम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है।

यह हमारे लिए गर्व का विषय है। आज गंगा जल के साथ इस नदी के पवित्र जल को भी राम मंदिर निर्माण में समर्पित करने का सौभाग्य हमें मिलेगा।