October 14, 2021

तालिबान पर सोशल मीडिया का हमला! फेसबुक और यूट्यूब पर लगा बैन,ब्लॉक होंगे व्हाट्सएप अकाउंट

एजेंसी : दिग्गज सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक भी तालिबान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर रही है. कंपनी तालिबान को आतंकवादी संगठन मानते हुए तालिबान वॉट्सऐप खातों पर रोक लगाने जा रहा है।

फेसबुक के अलावा अल्फाबेट कंपनी के यूट्यूब ने भी उन खातों पर प्रतिबंध लगा दिया है, जो तालिबान या उसकी तरफ से संचालित माने जा रहे थे.

तालिबान को मैसेजिंग प्लेटफॉर्म पर रोकने के लिए फेसबुक अफगानिस्तान के जानकारों की मदद लेगा.

फेसबुक ने तालिबान को ‘डेंजरस ऑर्गेनाइजेशन पॉलिसीज’ के तहत अपनी सभी सेवाओं पर बैन लगा दिया है. कंपनी के इस कदम का तालिबान ने विरोध किया है. 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी ने कहा है कि अमेरिकी कानूनों के तहत तालिबान पर आतंकी संगठन के तौर पर प्रतिबंध हैं. इसके चलते कंपनी को अमेरिकी प्रतिबंधों को मानना होगा.

एएफपी को दिए साक्षात्कार में फेसबुक ने कहा, ‘इसमें उन खातों पर बैन लगाना भी शामिल है, जो खुद को तालिबान के आधिकारिक खाते के रूप में प्रस्तुत करते हैं.

हम अमेरिकी अधिकारियों से अफगानिस्तान के बदलते हालात पर और जानकारी मांग रहे हैं.’

कंपनी ने कहा, ‘इसका मतलब है कि हम तालिबान या उसकी तरफ से बनाए गए खातों को हटाएंगे और उनकी तारीफ, समर्थन और प्रतिनिधित्व पर रोक लगाएंगे.’

फेसबुक ने बताया है कि वे नीति तैयार करने के लिए दरी और पश्तो बोलने वाले जानकारों की मदद ले रहे हैं. साथ ही कंपनी ने यह भी साफ किया है कि नीति उसके सभी प्लेटफॉर्म्स पर लागू होगी.

भाषा के अनुसार, फेसबुक ने कहा है कि उसने मंच पर तालिबान और उसका समर्थन करने वाली सभी सामग्री को प्रतिबंधित कर दिया है, क्योंकि वह समूह को आतंकवादी संगठन मानता है.

कंपनी का कहना है कि उसके पास बागी समूह से संबंधित सामग्री पर नजर रखने और उसे हटाने के लिए अफगान विशेषज्ञों की एक समर्पित टीम है.

वर्षों से तालिबान अपने संदेशों का प्रसार करने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल करता आया है।

खबरों के अनुसार, तालिबान के प्रवक्ता ने फेसबुक की तरफ से लगाई गई रोक का विरोध किया है.