October 13, 2021

सामने आई बड़ी वजह: हुई थी ये गड़बड़,जिससे बंद हो गए थे फेसबुक के ये तीनों ऐप

नई दिल्ली : सोमवार रात इंटरनेट यूजर्स को बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। दरअसल, कल रात फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप अचानक से डाउन हो गए।

न तो मैसेज आ रहे थे और न ही भेजे जा सकते थे। छह घंटे तक तीनों सोशल साइट्स ठप रहीं।

लेकिन ये सभी जानना चाहते हैं कि आखिर ऐसा क्या हो गया था कि तीनों सोशल साइट्स एक साथ डाउन हो गईं।ऐसे में इन सोशल साइट्स के डाउन होने की असल वजह सामने आई है।

बॉर्डर गेटवे प्रोटोकॉल (BGP) में हुई थी कुछ गड़बड़

जैसे ही फेसबुक, इंस्टाग्राम ओर व्हाट्सएप डाउन हुआ दुनिया भर के तकनीकी विशेषज्ञ इस तरह के ग्लोबल आउटेज का पता लगाने में जुट गए।

एक साइबरक्राइम स्पेशलिस्ट का कहना है कि बॉर्डर गेटवे प्रोटोकॉल (BGP) में गड़बड़ी के कारण फेसबुक के तीनों ऐप डाउन हुए थे।

दरअसल, यह BGP ही है जिसके कारण इंटरनेट काम कर पाता है। यह बहुत से नेटवर्क को जोड़े रखने का काम करता है।

इस प्रोटोकॉल के तहत ही कई कंपनियां बता पाती हैं कि वो भी इंटरनेट पर हैं, लेकिन फेसबुक से गड़बड़ी हुई और वह BGP को यह बता ही नहीं पाया कि वह भी इंटरनेट पर है।

जानेंक्या है BGP ?

आईटी एक्सपर्ट के मुताबिक, जब कोई यूजर इंटरनेट पर प्रवेश करता है तो BGP उसे ट्रेवल कराता है। वह उन रूट्स को तय करता है, जहां डेटा ट्रेवल कर सकता है।

बड़े राउटर्स अपने रूट को बार-बार अपडेट करते रहते हैं, जिससे नेटवर्क पैकेट्स को आखिरी सोर्स तक पहुंचाया जा सके। फेसबुक से यहीं गड़बड़ी हुई।

रूट अपडेट करते समय उसने गड़बड़ कर दिया और वह अन्य नेटवर्क्स को बता नहीं पाया कि वह भी इंटरनेट पर है।

एक साइबर एक्सपर्ट बताते हैं कि फेसबुक ठप होने से कुछ मिनट पहले ही BGP रूट में बड़े स्तर पर बदलाव हुए थे।

डोमेन नेम सिस्टम (DNS) भी हुआ था फेल

डोमेन नेम सिस्टम यानी डीएनएस भी इंटरनेट का एक बेहद जरूरी हिस्सा है। यह वेब डोमेन को इंटरनेट प्रोटोकॉल में बदल देता है।

सोमवार की रात डोमेन नेम में भी गड़बड़ी हुई, जिससे स्मार्ट फोन या सिस्टम पर फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप ठप हो गए।

अभी तक फेसबुक ने नहीं दिया है कोई आधिकारिक बयान

विश्वभर के साइबर एक्सपर्ट अपनी-अपनी जांच के आधार पर तीनों सोशल साइट्स के ठप होने की वजहें बता रही हैं।

हालांकि, अभी तक फेसबुक की ओर से ठप होने वजह को लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है।