पहलवान निशा दहिया और उसके भाई की हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, 1 लाख का रखा गया था इनाम

सोनीपत : हरियाणा के सोनीपत की रेसलर निशा दहिया और उसके भाई की हत्या मामले में आरोपी कोच पवन और सचिन को दिल्ली के द्वारका इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया है.

आरोपी कोच पवन और सचिन हत्याकांड के बाद मौके से फरार हो गए थे. सोनीपत पुलिस ने उनपर 1 लाख का इनाम रखा था.

जानें पूरा मामला?

गौरतलब है कि हरियाणा के सोनीपत में एक पहलवान, उसकी मां और उसके भाई को गोली मार दी गई.

गोली लगने से खिलाड़ी और उनके भाई की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि उनकी मां अस्पताल में भर्ती है. खिलाड़ी की मां धनपति की हालत गंभीर है और उन्हें रोहतक पीजीआई में रेफर किया गया है.

गांव हलालपुर में स्थित पहलवान सुशील कुमार रेसलिंग अकेडमी में इस वारदात को अंजाम दिया गया.

बता दें कि यूनिवर्सिटी लेवल पर मेडल जीतने वाली निशा दहिया (मृतक) हलालपुर गांव की रेसलर थी. पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए सोनीपत के सिविल हॉस्पिटल भेजा है.

इस पहलवान का नाम और नेशनल लेवल की एक कुश्ती खिलाड़ी का नाम निशा दहिया ही है. पहले खबर आई थी कि नेशनल लेवल की कुश्ती खिलाड़ी की हत्या हो गई है.

फिर उन्होंने वीडियो जारी कर इस पर सफाई दी. सोनीपत के एसपी ने भी इसकी पुष्टि की है. सोनीपत के एसपी ने बताया, “यह निशा दहिया (मृतक) और पदक विजेता पहलवान निशा दहिया दो अलग-अलग लोग हैं.

पदक विजेता पहलवान पानीपत से संबंधित हैं और वह अभी एक कार्यक्रम में हैं. जिस पहलवान निशा दहिया की हत्या हुई है वो यूनिवर्सिटी विजेता है.