जनपद में शुरू हुआ टीकाकरण

मुख्य बातें

  • मिलने लगीं गर्भवती व बच्चों को टीकाकरण की सेवाएं
  • हॉट स्पाट व कंटेनमेंट एरिया को छोड़कर सभी जगह बहाल हुई स्वास्थ्य सेवाएं
  • शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नगरा में आकस्मिक सेवाएँ शुरू करने के निर्देश

झाँसी : गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों के लिए टीकाकरण सेवाएं पूर्व की भांति चिकित्सा इकाइयों में निश्चित दिवस पर एवं समुदाय स्तर पर ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस (वीएचएनडी) के दिन उपलब्ध कराई जा रही हैं।

कोविड- 19 यानि कोरोना के चलते इन सेवाओं को बंद कर दिया गया था लेकिन अब हॉटस्पॉट व कंटेनमेंट एरिया को छोडकर यह सेवाएं कुछ प्रतिबंधों के साथ लाभार्थियों को दी जा रही है। यह जानकारी जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ ए के त्रिपाठी ने दी।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार जनपद के जिन क्षेत्रों में कोविड-19 संक्रमित मरीज नहीं मिले हैं वहाँ टीकाकरण की सुविधा शुरू कर दी गयी है।

टीकाकरण कार्यक्रम के संचालन में कोविड-19 के रोकथाम एवं बचाव हेतु निर्गत सामान्य प्रोटोकॉल जैसे सामाजिक दूरी व अन्य सुरक्षा उपायों का पालन किया जाएगा। सभी से अपील है कि वह अपने बच्चों और गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण जरूर कराये।

डॉ॰ त्रिपाठी ने बताया कि टीकाकरण के साथ शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नगरा को आकस्मिक सेवाएँ शुरू करने के निर्देश दिये गए है, जिसमें प्रसव की सुविधा भी सम्मिलित है।

यह करना जरूरी है

• वीएचएनडी सत्रों के आयोजन के समय सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने, साबुन से हाथ धोने एवं संक्रमण रोकथाम संबंधी निर्देशों का पालन किया जाएगा।

• वीएचएनडी सत्र परिसर में या क्षेत्र को कोविड 19 वायरस रहित करने के लिए स्थानीय पंचायत सदस्यों की सहायता से ब्लीचिंग पाउडर से विसंक्रमित (इन्फेक्ट) किया जाएगा। यदि कहीं पर भी वीएचएसएनडी सत्र के आयोजन स्थल को क्वारंटाइन सेंटर के रूप में प्रयोग किया जा रहा है तो आशा अपने क्षेत्र में वीएचएनडी के आयोजन के लिए ऐसा वैकल्पिक स्थान चिन्हित करेगी जो समुदाय के लोगों की पहुंच में हो साथ ही इस परिवर्तन के संबंध में एएनएम व समुदाय को सूचित करेगी।

• एएनएम द्वारा उपयोग किए जा रहे सभी उपकरणों जैसे बीपी उपकरण स्टैथोस्कोप आदि को प्रत्येक उपयोग के पहले सेनीटाइजर द्वारा डिसइनफेक्ट किया जाएगा।

• वीएचएनडी सत्र पर हाथ धोने के लिए एक कार्नर अवश्य बनाया जाएगा जहां पर एक बाल्टी स्वच्छ पानी, एक मग, एक साबुन की व्यवस्था की जाएगी। एएनएम आशा और आंगनबाड़ी द्वारा सुनिश्चित किया जाए कि वीएचएनडी सत्र पर आए सभी लाभार्थी देखभालकर्ता, साबुन पानी से कम से कम 20 सेकंड तक हाथ धोकर ही प्रवेश करें।

आशा, एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के लिए सावधानियां

• सभी प्रथम पंक्ति कार्यकर्ता (आशा, एएनएम,आंगनबाड़ी) समुदाय में स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने से पहले मास्क का प्रयोग अवश्य करेंगी।

• एएनएम द्वारा सत्र के प्रारंभ होने से पूर्व स्वच्छता के मानक प्रोटोकॉल अनुसार कम से कम 20 सेकंड तक साबुन पानी से हाथ अवश्य धोएगी।

• प्रत्येक लाभार्थी को टीका लगाने या प्रसव पूर्व सेवाएं देने से पहले और बाद में सैनिटाइजर से हाथ को साफ करने होंगे ।

• प्रत्येक एएनएम के पास कम से कम एक सैनिटाइजर प्रति पत्र अवश्य उपलब्ध कराया जाए और सत्र के दौरान एएनएम आशा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा इसको उपयोग किया जाए।

• लाभार्थियों एवं साथ आए व्यक्तियों को भी मास्क के उपयोग के लिए प्रेरित किया जाए। यदि मास्क उपलब्ध नहीं हो तो कॉटन का कपड़ा गमछा उपयोग करने की सलाह दी जाए।

• यदि किसी प्रथम पंक्ति कार्यकर्ताओं में इनफ्लुएंजा लायक इन्फेक्शन के लक्षण (सर्दी, खांसी, गले में खराश और बुखार) परिलक्षित होते हैं तो उसे तत्काल ड्यूटी से प्रतिबंधित करके कोविड 19 की जांच के लिए भेजा जाए।